किराये पर आई नई भाभी बस फिर क्या पटाना सुरू किया पर एक दिन जब भैया सादी मे गये तभी मैंने भाभी को अंधेरी छत मे बुलाया और

- 0 0
Please log in or register to post comments